अपने घर से ही Aadhaar Card में कर सकते हैं ये बदलाव, जानें कैसे


आज के समय में आधार कार्ड सबसे जरूरी दस्तावेजों में से एक हो गया है। कारण, बैंक में खाता खुलवाने से लेकर रसोई गैस, स्कूल में बच्चे के एडमिशन से लेकर सरकारी योजनाओं का लाभ लेने तक के लिए आधार कार्ड जरूरी है। दरअसल, आधार में भारत के प्रत्येक नागरिक की डेमोग्राफिक और बॉयोमेट्रिक जानकारियां दर्ज होती हैं। वहीं कई बार इसमें कुछ गलतियां हो जाती हैं। जिन्हें सुधारे बिना कई काम रुक सकते हैं। ऐसे में हम आपको कुछ ऐसे ही बदलावों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें आप घर बैठे ही कर सकते हैं।

ओरियेंटल बैंक भंगेल ब्रांच के मैनेजर की मानें तो हर रोज उनकी ब्रांच में दर्जनों लोग आधार कार्ड में सुधार कराने आते हैं। इनमें ज्यादातर जन्मतिथि व पता बदलवाने आते हैं। उन्होंने बताया कि आधार कार्ड में कई बदलाव हम घर पर ही कर सकते हैं। इसके लिए बैंक या पोस्ट ऑफिस जाने की जरूरत नहीं है। इसके लिए यूआईडीएआई की ऑफिशियल वेबसाइट https://uidai.gov.in/ पर जाकर देख सके हैं। घर पर बैठकर ही आधार कार्ड में पता बदला जा सकता है।

उन्होंने बताया कि आधार कार्ड में आवेदक का नाम, पता, जन्म की तारीख, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और जेंडर में ऑनलाइन अपडेट करने की सुविधा मिलती है। हालांकि सभी लोग इन जानकारियों को ऑनलाइन अपडेट नहीं कर सकते हैं। यूआईडीएआई ने सिर्फ उन्हीं लोगों को यह सुविधा दी है जिन्होंने अपना वैडिलड मोबाइल नंबर को आधार के साथ रजिस्टर्ड किया हुआ है। ऑनलाइन प्रॉसेस में ओटीपी की जरूरत पड़ती है, जो रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ही आता है।आधार में मोबाइल नंबर अपडेट करने के लिए किसी तरह के डाक्यूमेंट की जरूरत नहीं है।

इस परिस्थिति में जाना होगा बैंक या डाकघर

बता दें कि आधार कार्ड धारक को बॉयोमेट्रिक डेटा अपडेट के लिए डाकघर, बैंक या आधार सेवा केंद्र जाना होता है। इसमें आईरिस, फिंगर प्रिंट और फेशियल फोटोग्राफ की जानकारी शामिल है। इसी तरह बच्चे के आधार कार्ड में पांच साल और 15 साल की उम्र में बॉयोमेट्रिक डेटा को फिर से अपडेट किया जाता है।

Comments are closed.