अब शुरू होगी परदे के पीछे से विकास दुबे की मदद करने वालाें की जांच

कानपुर के चर्चित बिकरू कांड में पुलिस की जांच सिर्फ घटना और उसके बाद हुई कार्रवाई तक ही सीमित रह गई है। मगर इसी मामले में ईडी, खुफिया, एसआईटी और न्यायिक आयोग की जांच अभी जारी है। इसे लेकर शहर के कई सफेदपोशों की सांसें अटकी हैं। इन जांचों में कई ऐसे लोगों के भी नाम सामने आने की आशंका है जो पर्दे के पीछे से विकास की मदद कर रहे थे। 

बिकरू कांड में अभी तक पुलिस जांच में सम्पत्ति जब्तीकरण, गिरफ्तारियां, एनकाउंटर तक की कार्रवाई हुई है पर विकास दुबे इस कदर दुर्दांत कैसे बना इस पर फिलहाल पुलिस ने कोई जांच नहीं की है। लेकिन अन्य एजेंसियां जैसे आईबी, ईडी, एसआईटी और न्यायिक जांच आयोग की जांच में इस बात का भी उल्लेख रहेगा कि आखिरकार विकास को इतना बड़ा अपराधी बनाने में किसका हाथ रहा है।  

Whatsapp पर शेयर करें

यह बिंदु रहेंगे जांच का विषय
विकास के जयारम की दुनिया में आने के बाद उसे राजनीतिक संरक्षण किसके इशारे पर मिला। बड़े नेताओं से बदसलूकी की तो पीछे से उसकी ताकत कौन था। जिन अपराधिक मामलों से बरी हुआ तो उसके पीछे का षड्यंत्र किसका था। ये कुछ बिन्दु हैं जो जांच रिपोर्ट में शामिल होंगे।

सफेदपोशों पर गिर सकती है गाज 
जांच रिपोर्ट में विकास दुबे के जो भी सफेदपोश सरपरस्त निकलेंगे। उनके ऊपर भी एजेंसियों द्वारा फंदा कसा जाएगा। सूत्रों के मुताबिक इनमें उन लोगों की भूमिका तय की जाएगी जिन्होंने उससे आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिलवाया। साथ ही इसके बाद विकास को क्या लाभ मिला

Whatsapp पर शेयर करें

Comments are closed.