इस दिन झाड़ू खरीदने से मां लक्ष्मी के साथ ही शनिदेव भी प्रसन्न होते हैं


झाड़ू का काम यूं तो घर की साफ-सफाई करना है. लेकिन यह धार्मिक दृष्टि से भी काफी महत्व रखता है. भारतीय धर्म शास्त्र में झाडू को मां लक्ष्मी का रूप माना जाता है. और मां लक्ष्मी की अराधना करने से घर में धन संपत्ति में बढ़ोतरी होती है. ऐसे में हिंदू धर्म में झाड़ू का विषेश महत्व है. आज हम आपको झाड़ू से संबंधित कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जिन्हें ध्यान रखना आपके लिए काफी जरूरी है. आइए जानते हैं- – कई लोग काफी सफाई प्रेमी होते हैं. घर में छोड़ी सी भी धूल या मिट्टी दिखने पर सफाई करने लगते हैं. ऐसे लोगों के लिए यह जानना काफी महत्वपूर्ण है कि शाम में सूर्यास्त से पहले झाड़ू लगा लें. दिन ढलने के बाद झाड़ू लगाना काफी अशुभ माना जाता है. ऐसा करने से मां लक्ष्मी नाराज हो जाती है और घर में दरिद्रता आती है.

Whatsapp पर शेयर करें

– अगर आपकी झाड़ू पुरानी हो गई है और आपको नई झाड़ू खरदनी है तो आप शनिवार को खरीद सकते हैं. झाड़ू खरीदने के लिए यह दिन काफी अच्छा होता है. शनिवार के दिन झाड़ू खरीदने से मां लक्ष्मी के साथ ही शनिदेव भी प्रसन्न होते हैं. 

– वास्तु शास्त्र के हिसाब से झाड़ू रखने की सही दिशा पश्चिम या दक्षिण पश्चिम होनी चाहिए. साथ ही एक बात का ख्याल रखें कि झाड़ू को हमेशा लेटाकर रखें. कभी भी झाड़ू को खड़ा करके ना रखें.

– झाड़ू को हमेशा छुपाकर रखना चाहिए. झाड़ू को ऐसी जगह पर रखें जहां आते-जाते समय किसी की नजर ना पड़े. ऐसा माना जाता है कि अगर लोगों को आपके घर में झाड़ू नजर आती है तो इससे घर में बरकत नहीं आती हैं.

– अक्‍सर लोगों के घरों में देखने को मिलता है कि लोग टूटी हुई घिसी हुई झाड़ू का प्रयोग कई दिन तक करते रहते हैं. ऐसा सही नहीं है. वास्तु के हिसाब के झाड़ू के खराब हो जाने के बाद नई झाड़ू लाना चाहिए. टूटी या घिसी झाड़ू से घर की सफाई की जाए तो यह काफी अपशगुन माना जाता है.

Whatsapp पर शेयर करें

Comments are closed.