कोरोना वैक्सीन को लेकर सामने आई एक और अच्छी खबर

 

दुनियाभर में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का इंतजार हो रहा है। कई देशों में इसके ह्यूमन ट्रायल चल रहे हैं, जिनमें से भारत भी एक है। अब कोरोना वैक्सीन को लेकर एक और अच्छी खबर सामने आई है। डॉ रेड्डीज लेबोरेटरीज लिमिटेड को कोविड-19 के रूस में बने टीके स्पूतनिक वी (Sputnik V) के भारत में दूसरे और तीसरे चरण के ह्यूमन क्लिनिकल ट्रायल करने की मंजूरी मिल गई है। कंपनी की ओर से बताया गया है कि उसे और रशियन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड (RDIF) को ड्रग कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) से यह मंजूरी मिली है। हैदराबाद की कंपनी ने कहा कि यह एक नियंत्रित अध्ययन होगा, जिसे कई केंद्रों पर किया जाएगा। 

कंपनी की ओर से कहा गया है कि वह महामारी से निपटने के लिए एक सुरक्षित और प्रभावी टीका लाने को प्रतिबद्ध है। वहीं रशियन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड के अधिकारियों का कहना है कि भारत में होने वाले परीक्षण के साथ ही रूस में तीसरे चरण के परीक्षण के डेटा को साझा करेंगे। इससे भारत में स्पूतनिक वी के क्लिनिकल डेवलपमेंट में मदद मिलेगी। 

इससे पहले सितंबर 2020 में डॉ रेड्डीज और RDIF ने स्पूतनिक वी वैक्सीन के परीक्षण और भारत में इसके वितरण के लिए साझेदारी की थी। साझेदारी के तहत आरडीआईएफ भारत में रेगुलेटरी मंजूरी पर डॉ रेड्डीज को वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक की आपूर्ति करेगा। स्पूतनिक वी वर्तमान में रूस में फेज तीन के क्लिनिकल ट्रायल से गुजर रही है। वैक्सीन का फेज 3 क्लिनिकल ट्रायल पिछले हफ्ते UAE में शुरू हुआ है। 

Comments are closed.