जानें कोरोना से संक्रमित होने के बाद आखिर क्यों झड़ने लगते हैं बाल?

 स्वास्थ्य डेस्क. कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों में साधारण रूप से गले में दर्द, खराश, बुखार और सर्दी-जुकाम की परेशानियाँ अधिक देखने को मिली है. इसके अलावा कोरोना मरीजों में अन्य लछण भी देखें गये हैं. जिसमें से सबसे ज्यादा है बाल झड़ना. एक नई स्टडी में ये खुलासा किया गया है कि कोरोना से संक्रमित होने के बाद आखिर बाल तेजी से क्यों गिरने लगते हैं.

इस स्टडी के लिए अमेरिका के इंडियाना यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉक्टर नताली लाम्बर्ट की टीम ने 1500 लोगों पर सर्वे किया. सर्वे में शामिल सभी लोग Covid-19 से लंबे समय तक संक्रमित रहे थे और ठीक होने के बाद भी इन पर वायरस का असर कई दिनों तक था. इन सभी ने बहुत ज्यादा बाल झड़ने की शिकायत की.

सर्वे में शोधकर्ताओं ने पाया कि बाल झड़ना कोरोना वायरस के 25 लक्षणों में से एक है. सर्वे में शामिल कोरोना के कई मरीजों ने बताया कि उन्होंने उल्टी या जुकाम की बजाय बाल गिरने की समस्या का ज्यादा अनुभव किया. इन सभी लोगों ने वर्चुअल तरीके से सर्वे में भाग लिया था.क्या है कारण- एक्सपर्ट्स का कहना है कि बीमारी में बाल झड़ने का संबंध तनाव या सदमे से होता है. इस स्थिति को टेलोजेन एफ्लुवियम भी कहते हैं. टेलोजेन एफ्लुवियम में किसी बीमारी, सदमे या तनाव की वजह से कुछ समय के लिए बाल तेजी से झड़ने लगते हैं.

इसके अलावा, संक्रमण के दौरान शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है जिसकी वजह से भी बाल झड़ने लगते हैं. हालांकि कोरोना वायरस के संबंध में इन दोनों बातों पर अभी और स्टडी किए जाने की जरूरत है.

एक्सपर्ट्स का का कहना है कि बीमारी में बाल बस कुछ समय के लिए झड़ते हैं. इससे बचने के लिए कोरोना के मरीजों को तनाव नहीं लेना चाहिए. इसके अलावा रिकवरी के लिए डाइट पर भी ध्यान देना चाहिए. आयरन और विटामिन डी वाली चीजे खाएं और इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाएं. कुछ दिनों के बाद बाल झड़ने की समस्या अपने आप खत्म हो जाएगी.

Whatsapp पर शेयर करें

Comments are closed.