दीवाना उस ने कर दिया एक बार देख कर, हम कर सके न कुछ भी लगातार देख कर

0

 

Third party image reference

१. अकेले ही काटना है मुझे ऐ जिन्दगी का सफर,

यूँ पल-दो-पल साथ चलकर मेरी आदत खराब न करो ।

२. बारिश की आवारगी ने हर रुत ही बदल डाली,

जिन्हें मुश्किल से भूले थे वो फिर याद आने लगे।

३. पता है हमें प्यार करना नहीं आता मगर,

जितना भी किया है सिर्फ तुमसे किया है! ???

ख्वाबो की सजी थी महफिल पर हसरत नीलाम हो गई,

तुने क्या देखा मुझे इक नजर मेरी रुह भी तेरी गुलाम हो गई!

४. तेरे प्यार में दो पल की जिंदगी बहुत है,

एक पल की हँसी और एक पल की खुशी बहुत है,

यह दुनिया मुझे जाने,

या ना जाने तेरी आँखे मुझे पहचाने यही बहुत है!

५. दीवाना उस ने कर दिया एक बार देख कर,

हम कर सके न कुछ भी लगातार देख कर।

दिखने में वो बहुत गरीब थी साहब पर..

उसकी हँसी किसी शहजादी से कम नहीं थी।

Whatsapp पर शेयर करें

Leave A Reply

Your email address will not be published.