नवरात्रि पर मां को प्रसन्न करने के लिए अपनाएं ये खास उपाय, धन और वैभव से भर जाएगा आपका घर

 

सनातन धर्म नवरात्रि का काफी महत्व है. इन दिनों में लोग मां दुर्गा के विभिन्न स्वरूपों की पूजा अर्चना करते हैं और मां को प्रसंन्न कर यश, वैभव और संवृद्धि की कामना करते हैं. एक साल में नवरात्रि चार बार आते हैं. हर बार के नवरात्रि का अलग-अलग महत्व है. इस बार शारदीय नवरात्रि 17 अक्टूबर यानी शनिवार से शुरु हो रहे हैं. अश्विन माह की प्रतिपदा तिथि से लेकर नवमी तिथि तक देवी मां के नौ अलग-अलग स्वरूपों की पूजा-आराधना की जाती है. ऐसा माना जाता है कि नौ दिन के लिए माता दुर्गा पृथ्वी पर आती है और अपने भक्तों की साधना से प्रसन्न होकर उन्हें आशीर्वाद प्रदान करती है.

नवरात्रि के पहले तीन दिन देवी दुर्गा के ऊर्जा और शक्ति की उपासना का का काफी महत्व माना जाता है. उसके बाद नवरात्रि के चौथे, पांचवें और छठे दिन पर सुख और समृद्धि प्रदान करने वाली देवी लक्ष्मी की आराधना की जाती है. वहीं सातवें दिन कला और ज्ञान की देवी सरस्वती की उपासना का महत्व होता है. अष्टमी और नवमी तिथि पर कन्या पूजन कर माता को विदा कर दिया जाता है. नवरात्रि पर देवी दुर्गा की उपासना करने और शुभ फल प्राप्त करने के लिए शास्त्रों में कई उपाय बताए गए हैं. आज आपको ऐसे ही कुछ उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं तो आपको नवरात्रि के दिनों में करने चाहिए. ऐसा करने से मां दुर्गा आपसे प्रसन्न होंगी और आपको मन चाहा वरदान देंगी.

Whatsapp पर शेयर करें

देवी मां अपने भक्तों  को सुख-संपत्ति और आरोग्य का आशीर्वाद देती हैं. नवरात्रि पर देवी दुर्गा का आशीर्वाद पाने के लिए पूजा में लाल रंग के पुष्प का विशेष रूप से प्रयोग करना चाहिए. बता दें कि माता को लाल रंग का फूल बहुत ही प्रिय होता है, लेकिन नवरात्रि के नौ दिनों में किसी भी एक दिन कमल का फूल जरूर चढ़ाना चाहिए. धन की देवी मां लक्ष्मी को कमल का फूल अत्यंत प्रिय होता है इस तरह से पूजा करने पर धन-संपदा का आशीर्वाद मिलता है.

इसके साथ ही नवरात्रि पर दुर्गा सप्तशती का पाठ अवश्य ही करना चाहिए. कहा जाता है कि इस पाठ को करने से पूजा में हुई भूल को क्षमा कर दिया जाता है. यदि पूजा के दौरान कोई भूल-चूक हो जाए तो आप दुर्गा सप्तशती के अंत में क्षमा प्रार्थना पढ़ कर देवी से माफी मांग लेते हैं और आपकी पूजा पूरी मानी जाती है. वहीं किसी भी शुभ कार्य या मांगलिक और धार्मिक अनुष्ठान करने से पहले सबसे पहले भगवान गणेश की वंदना जरूर करनी चाहिए. ऐसे में नवरात्रि के पवित्र दिन में घर से नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए घर के मुख्य दरवाजे पर स्वस्तिक का निशान बनाना भी शुभ माना जाता हैैै. इससे कार्य में आने वाली तमाम तरह की बाधाएं दूर हो जाती हैं.

इसके अलावा नवरात्रि पर कमल के फूल पर बैठी हुईं माता लक्ष्मी की तस्वीर की पूजा करना भी शुभ माना जाता है. ऐसा करने से मां दुर्गा के साथ आपको लक्ष्मीजी की भी कृपा भी प्राप्त होती है. ऐसा माना जाता हैै कि नवरात्रि में माता को लाल रंग का कपड़ा और कौड़ी अर्पित करने से  सुख संवृद्धि की प्राप्ति होती है. इसके लिए लाल कपड़े में कौड़ी को रखकर अपने घर के धन रखने वाले स्थान में रखना चाहिए. ऐसा करने से आपके घर में हमेशा सुख और संपदा का वास होगा

Whatsapp पर शेयर करें

Comments are closed.