पहला टेस्ट मैच अब भी जीत सकती है टीम इंडिया,जानिए इस बारे में

तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक हनुमा विहारी (15 रन) और अजिंक्य रहाणे (25 रन) क्रीज पर थे. पहली पारी की बढ़त के आधार पर न्यूजीलैंड अब भी भारत से 39 रन आगे हैं।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया पहली पारी में 165 रनों पर ऑलआउट हो गई. इसके जवाब में न्यूजीलैंड ने अपनी पहली पारी में 348 रन बनाए. पहली पारी के आधार पर कीवी टीम ने टीम इंडिया पर 183 रनों की बढ़त हासिल की।

मैच में ईशांत ने ही भारतीय टीम को शुरुआती 3 सफलता दिलाई थीं। उन्होंने पहले टॉम लाथम (11 रन) को विकेटकीपर ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट कराया। फिर ब्लेंडल को क्लीन बोल्ड किया। इसके बाद टेलर को चेतेश्वर पुजारा के हाथों कैच आउट कराया। तीसरे दिन ईशांत ने साउदी और बोल्ट को पवेलियन भेजा।

अब ये रहाणे, विहारी और रिषभ पर निर्भर करता है कि वो क्या वो सब टीम को इस स्थिति तक ला सकते हैं। हालांकि ये काफी मुश्किल है, लेकिन असंभव भी नहीं दिखता। भारतीय टीम अगर चौथे दिन बल्लेबाजी करते हुए 300 की बढ़त ले लेती है तो पांचवें दिन न्यूजीलैंड को बल्लेबाजी करनी होगी और टेस्ट के आखिरी दिन किसी भी पिच पर बल्लेबाजी आसान तो नहीं होता जिसका फायदा भारतीय गेंदबाज उठा सकते हैं।

टेस्ट बल्लेबाजी लाइनअप के दो मजबूत स्तंभों विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा की लगातार दूसरी पारी में नाकामी से न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत पहले टेस्ट मैच में बैकफुट पर चला गया।

पृथ्वी ने टेस्ट मैच की दोनों पारियों में सिर्फ 30 रन बनाए।

Comments are closed.