बेटी का हत्यारा निकला रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में तैनात कमांडो, गिरफ्तार होने पर सुनाई ये कहानी

लखनऊ (Uttar Pradesh) । रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में तैनात सब इंस्पेक्टर कमांडो वेद प्रकाश सिंह ने बेटी सृष्टि सिंह (15) की हत्या की बात स्वीकार कर ली है। उसने बताया कि बेटी सृष्टि की दोस्ती के कारण वो नाराज था। इस पर उसने जवाब दिया तो क्रिकेट बैट से पीट दिया। चोटों से सृष्टि ने दम तोड़ दिया तो सर्विस पिस्टल से कनपटी पर गोली मारकर खुदकुशी की कहानी गढ़ डाली। पुलिस ने हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बैट बरामद कर लिया है। बता दें कि 17 फरवरी को विकास नगर के सरकारी कॉलोनी के मकान में दसवीं की छात्रा 15 वर्षीय सृष्टि की संदिग्ध हालातों में मौत का मामला सामने आया था।

मौत के बाद सुनाई थी ये कहानी

सृष्टि की मौत को परिजन आत्महत्या बता रहे थे। वे कह रहे थे कि 10वीं की छात्रा सृष्टि ने पिता की सर्विस ग्लाक पिस्टल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। घटना के बाद पुलिस परिजनों के बयान के मुताबिक इसे परीक्षा के दबाव के चलते आत्महत्या का मामला मान रही थी। पुलिस ने मौके से पिस्टल और गोली भी बरामद की थी, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने परिजनों की थ्योरी को बदल दिया। शव में कहीं भी गोली के निशान नहीं मिले, जबकि परिजनों के मुताबिक सृष्टि ने सिर में गोली मारी थी।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ये बातें आईं थीं सामने

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में किसी हार्ड एंड ब्लंट ऑब्जेक्ट से सृष्टि के सिर पर वार की बात सामने आई। हाथ और शरीर के कुछ और हिस्सों में भी चोट का जिक्र पोस्टमार्टम रिपोर्ट में है। जिसके आधार पर पुलिस ने वेद प्रकाश सिंह को आरोपी बनाया। पोस्टमार्टम के बाद वेद प्रकाश सिंह अपनी पुत्री के शव का अंतिम संस्कार करने के लिए पैतृक निवास गोरखपुर गया था। वेद प्रकाश सिंह गोरखपुर से लौटकर लखनऊ आया तो पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

Comments are closed.