भारत अभी भी जीत सकता है पहला टेस्ट, करने होंगे ये 4 बड़े काम,जानिए

बेसिन रिजर्व पार्क, वेलिंग्टन में इस समय पहला टेस्ट मैच खेला जा रहा है. जिसके तीसरे दिन न्यूजीलैंड ने इस टेस्ट मैच में अपनी पकड़ काफी मज़बूत कर ली है. तीसरे दिन के खेल समाप्ति के बाद भारत पहली पारी के आधार पर 39 रन से पीछे चल रहा है. आइए जानते हैं कैसे…

जानिए तीसरे दिन का पूरा स्कोरकार्ड :-

तीसरे दिन की शुरुआत में भारत ने न्यूजीलैंड की पहली पारी को 348 रनों पर समाप्त किया. जिसमें कॉलिन डी ग्रैंडहोम ने 43 रन और काइल जेमीसन ने 44 रन बनाए. इसके अलावा ट्रेंट बोल्ट ने ताबड़तोड़ 38 रन बनाए. भारत की तरफ से इशांत शर्मा ने सर्वाधिक 5 विकेट लिए.

इसके बाद भारत ने दूसरी पारी में 65 ओवर बल्लेबाजी की. जिसमें उन्होंने 4 विकेट खोकर 144 रन बना लिए हैं. जिसमें भारत की तरफ से मयंक अग्रवाल ने सर्वाधिक 58 रनों की पारी खेली. मयंक के अलावा विराट कोहली 19 रन और पृथ्वी शॉ ने 14 रन बनाए.

तीसरे दिन का खेल समाप्त होने पर अजिंक्य रहाणे 25 रन और हनुमा विहारी 15 रन बनाकर क्रीज़ पर नाबाद हैं. इस तरह भारत पहली पारी के आधार 39 रन से पीछे चल रहा है. न्यूजीलैंड के लिए ट्रेंट बोल्ट ने सर्वाधिक 3 और टिम साउदी ने एक विकेट लिया.

इस टेस्ट में भारत अभी भी 39 रन से पीछे चल रहा है. लेकिन भारत अब भी यह टेस्ट मैच जीत सकता है. जिसके लिए उसे ये 4 बड़े काम करने पड़ेंगे. आइए जानते हैं इसके बारे में..

पहला काम :-
भारत के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे इस समय क्रीज पर 25 रन बनाकर सेट हैं. रहाणे का टेस्ट क्रिकेट में तीसरी पारी में रिकॉर्ड बेहतरीन रहा है. जिसका फायदा भारत को मिल सकता है. इसके लिए रहाणे को एक बड़ी पारी खेलनी होगी.

दूसरा काम :-
रहाणे के साथ दूसरे छोर पर हनुमा विहारी मौजूद हैं. जिन्होंने अब तक काफी संयम भरी बल्लेबाजी की है. अगर विहारी-रहाणे के साथ टिके रहते हैं. तो भारत न्यूज़ीलैंड के सामने चुनौती भरा लक्ष्य देने में सक्षम हो सकती है.

तीसरा काम :-
इस टेस्ट में रिधिमान साहा की जगह ऋषभ पंत को मौका दिया. लेकिन उन्होंने पहली पारी में निराश किया. हालाँकि उन्होंने अपनी फॉर्म का संकेत दिया था. ऐसे में ऋषभ से दूसरी पारी में बड़ी पारी की उम्मीद की जा रही है. जिसके लिए उन्हें काफी अच्छी बल्लेबाजी करनी होगी.

चौथा काम :-
इस टेस्ट में भारत अब तक सिर्फ एक सेशन ही जीत सका है. ऐसे में भारतीय गेंदबाजों को लगातार अच्छा प्रदर्शन करना होगा. जिससे वो चौथी पारी में छोटे से लक्ष्य का भी सफलतापूर्वक बचाव कर सकते हैं.

Comments are closed.