सोशल मीडिया पर ट्रेंड हुआ बाबा का ढ़ाबा, एडवांस लगा मिलने, हुई लाखों की मदद,

 सोशल मीडिया की ताकत ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि यदि इसे सकारात्मक दिशा दी जाए तो आप किसी की जिंदगी बदल सकते हैं। दिल्ली के मालवीय नगर में मौजूद बाबा का ढाबा की किस्मत रातों-रात ऐसी बदली कि सुबह होते ही ढाबे पर भीड़ लग गई। ढाबे पर पिछले दो दिन से भीड़ इस कदर उमड़ रही है कि कई का तो काफी देर बाद नंबर आ रहा है। फूड ब्लॉगर गौरव वासन के चैनल ‘स्वाद’ के जरिए चर्चा में आए #BabaKaDhaba की अब रिकॉर्डतोड़ कमाई हो रही है। लॉकडाउन के बाद बामुश्किल 30-50 रुपए कमाने वाले बाबा के ढाबे को महज दो दिन में लाखों रुपए मिल चुके हैं। बॉलीवुड सेलिब्रिटीज भी इस ढाबे के मुरीद हो गए। रणदीप हुड्डा ने तो यहां तक लिख दिया कि एक बार इस ढाबे पर जरूर जाएं।

राजधानी की मालवीय नगर मेन मार्केट में बाबा का ढाबा चलाने वाले एक बुजुर्ग दंपती की उम्मीदों को नया जीवन दिया है। एक दिन पहले उनकी आंखों से बरसते आंसू की जगह अब खुशियों की रोशनी है। लॉकडाउन के दौरान ढाबा बंद रहा और अनलॉक में खुला तो ग्राहक नदारद हो गए। हालत यह हो गई कि ढाबा फिर शुरू करने के लिए पर्याप्त राशन भी नहीं था, लेकिन गौरव वासन उनके लिए ऐसे फरिश्ते बनकर आए कि उनकी किस्मत ही बदल गई। 

बुजुर्ग कांता प्रसाद और उनकी पत्नी बादामी देवी की बदहाली का वीडियो बनाकर गौरव ने बुधवार को फेसबुक, ट्विटर व इंस्टाग्राम पर पोस्ट कर दिया। देखते ही देखते उनकी पीड़ा देश-दुनिया तक पहुंच गई। गुरुवार को हैशटैग बाबा का ढाबा ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा। वीडियो में बुजुर्ग रोते हुए कह रहे थे कि उनके ढाबे पर कोई ग्राहक नहीं आ रहा है। 

Whatsapp पर शेयर करें

बॉलीवुड व खेल जगत की हस्तियों ने लोगों से अपील की कि ‘बाबा के ढाबे पर खाना खाएं, ताकि बुजुर्ग की मदद हो सके’। इसके बाद सुबह नौ बजे से ही ढाबे पर ग्राहकों की कतार लग गई। कांता प्रसाद की मदद करने के लिए बॉलीवुड से रवीना टंडन, सुनील शेट्टी, स्वरा भास्कर, सोनम कपूर, क्रिकेटर रविचंद्रन अश्विन समेत तमाम हस्तियों ने अपील करते हुए ट्वीट किया। कुछ ने आर्थिक मदद भी की। भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता और आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती भी मदद के लिए पहुंचे। लोग यहां खाना खाते हुए अपने वीडियो व सेल्फी भी पोस्ट कर रहे थे। 

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के पिपरी गांव के रहने वाले कांता प्रसाद और उनकी पत्नी बादामी देवी की उम्र 80 वर्ष से अधिक है। वह अपने दो बेटों व एक बेटी के साथ शेख सराय के पास रहते हैं। 1990 से ही मालवीय नगर में अपनी छोटी सी दुकान लगा रहे हैं। लॉकडाउन से पहले लोग यहां शौक से खाना खाने आते थे। लेकिन अनलॉक के बाद ग्राहक गायब हो गए।

गौरव वासन ने बताया कि करीब ढाई लाख रुपये की मदद बाबा को मिल चुकी है। तमाम लोगों ने खाना खाने के बाद उन्हें एकमुश्त एक सप्ताह का व एक माह का एडवांस भुगतान कर दिया है। 

जोमेटो पर आया ढाबा 

सोशल मीडिया पर मिली पॉपुलेरिटी के बाद ढाबा को जोमेटो ने लिस्ट कर दिया है। हालांकि अभी फूड डिलीवरी की सुविधा मौजूद नहीं है, लेकिन कांता प्रसाद का नंबर दिया हुआ है, जहां से आप उन्हें फोन कर सकते हैं। जोमेटो की टीम डिलीवरी सुविधा शुरू करने पर काम कर रही है। बाबा का ढाबा का मेन्यू इस प्रकार है: पांच रुपए चपाती, हाफ सब्जी 30 रुपए, दाल 30 रुपए हाफ, मटर पनीर 40 रुपए हाफ, चावल 30 रुपए हाफ और 50 रुपए फुल। 

Whatsapp पर शेयर करें

Comments are closed.