सोशल मीडिया से फोटो चुराकर ऐप ने बनाए हजारों लड़कियों के न्यूड्स, टेलिग्राम पर वायरल

 किसी भी नई टेक्नॉलजी का गलत इस्तेमाल होने में देर नहीं लगती और कुछ ऐसा ही आर्टिफिशल इंटेलिजेंस यानी कि AI के साथ देखने को मिल रहा है। AI की मदद से पहले Deepfake तैयार किए गए और इससे भी बुरा यह है कि अब बिना किसी को खबर लगे उसकी तस्वीरों से DeepNudes बनाए जा रहे हैं। इस टेक्नॉलजी की मदद से किसी विडियो या फोटो में दूसरे का चेहरा कुछ ऐसे लगाया जा सकता है कि वह बिल्कुल असली लगे। अब इसका शिकार कम उम्र की हजारों लड़कियां बनी हैं, जिनकी न्यूड तस्वीरें वायरल हैं।


सोशल मीडिया से हजारों लड़कियों की तस्वीरें चुराकर उन्हें DeepNude ऐप और सॉफ्टवेयर की मदद से एडिट किया जा रहा है और न्यूड तस्वीरों में बदला जा रहा है। Sensity की एक रिपोर्ट में इससे जुड़े डीटेल्स सामने आए हैं और बताया गया है कि किस तरह इसका टारगेट बनी लड़कियों को खबर तक नहीं है और इनमें से ज्यादातर की उम्र 18 साल से कम है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 1 लाख से ज्यादा लड़कियों के ऐसे न्यूड्स वायरल किए जा रहे हैं। शेयर की गईं फोटोज में से करीब 70 प्रतिशत पर्सनल सोशल मीडिया अकाउंट्स से ली गई हैं।


टेलिग्राम पर हो रहा है खेल
न्यूड इमेजेस को फैलाने का जरिया इन दिनों मेसेजिंग ऐप टेलिग्राम बना हुआ है। इंटेलिजेंस कंपनी Sensity की मानें तो ऐसी न्यूड तस्वीरें बनाने के लिए ‘deepfake bot’ टेक इस्तेमाल किया जा रहा है। ये bots कंप्यूटर जेनरेटेड और असली जैसे दिखने वाले न्यूड्स रियल लाइफ इमेसेज की मदद से तैयार कर देते हैं। इसी टेक को बीते दिनों सिलेब्स के फेक पॉर्न विडियोज बनाने के लिए भी इस्तेमाल किया गया था। Sensity के चीफ एग्जक्यूटिव जॉर्जियो पैट्रिनी ने कहा कि पब्लिक सोशल मीडिया इन दिनों नया टारगेट हैं और सेलिब्रिटीज के बाद नॉर्मल पब्लिक अकाउंट्स से न्यूड्स तैयार किए जा रहे हैं।

फ्री में बना देता है न्यूड्स
रिपोर्ट में उन्होंने बताया कि किसी नॉर्मल इमेज के ‘कपड़े उतारने’ के लिए यूजर को केवल टारगेट का फोटो अपलोड करना होता है। इसके बाद bot आर्टिफिशन इंटेलिजेंस की मदद से इमेज को प्रोसेसर करता है और न्यूड में बदल देता है। यह bot प्राइवेट मेसेजिंग चैनल में Telegram में फ्री में अवेलेबल है और कोई भी यूजर किसी लड़की की इमेज भेजकर बदले में उसका न्यूड पा सकता है और अपनी मर्जी से किसी के भी साथ शेयर कर सकता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि जुलाई, 2019 से 2020 के बीच इस तरह 104,852 लड़कियों के न्यूड्स तैयार किए गए हैं और यह सिलसिला जारी है।

Whatsapp पर शेयर करें

Comments are closed.