हैंड सेनेटाइजर के अधिक इस्तेमाल करने से हो सकती हैं ये समस्याएं

सभी लोग साफ सफाई का ध्यान रखते है। अपने हाथों को धोने के लिए हैंड सेनेटाइजर का इस्तेमाल करते हैं। कुछ लोग तो दिन में कई बार अपने हाथों को हैंड सेनेटाइजर से धोते हैं। उन्हें लगता है कि हैंड सैनिटाइजर से हाथ धोने से उनके हाथ अच्छे से साफ हो जाएंगे, पर क्या आपको पता है कि बार-बार हैंड सेनेटाइजर का इस्तेमाल करने से आपकी सेहत को बहुत सारे नुकसान हो सकते हैं।

हैंड सेनेटाइजर का इस्तेमाल:

सभी लोगों को ऐसा लगता है कि हैंड सेनेटाइजर का इस्तेमाल करने से हाथों पर मौजूद बैक्टीरिया मर जाते हैं, पर हम आपको बता दें कि सेनेटाइजर में 60% अल्कोहल मौजूद होता है जो कीटाणुओं को पूरी तरह से नहीं खत्म कर पाता है। बल्कि साबुन से हाथ धोने से हाथों पर मौजूद बैक्टीरिया पूरी तरह से खत्म हो जाते हैं।

होते है ये नुकशान:

# अल्कोहल सैनिटाइजर में ट्राइक्लोसन की भरपूर मात्रा पाई जाती है। ट्राइक्लोसन एक पावरफुल एंटीबैक्टीरियल एजेंट होता है। रोजाना इसका इस्तेमाल करने से एंटीबायोटिक्स का असर खत्म हो जाता है। जिससे सर्दी जुकाम जैसी समस्याएं होने लगते हैं।

# अधिक मात्रा में सेनेटाइजर का इस्तेमाल करने से हाथों की त्वचा खुरदरी हो जाती है। इसके अलावा आगे जाकर आपको स्किन से जुड़ी और भी समस्याएं हो सकती हैं।

# शरीर में बैड बैक्टीरिया के साथ-साथ गुड बैक्टीरिया भी होते हैं। जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखने का काम करते हैं। हैंड सैनिटाइजर गुड और बैड दोनों प्रकार के बैक्टीरिया को खत्म करने का काम करता है। जिससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता खत्म हो जाती है

Comments are closed.