2 साल के मासूम बच्चे के साथ हैवानियत की हद पार, आंख-पेट और गले पर मिले गोदने के निशान

0
Dead Body Of 2 Year Old child Found Bushes In Dhaulpur Rajasthan - Sakshi Samachar

जयपुर : राजस्थान के धौलपुर के रंजीतपुरा गांव में गुरुवार को रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना सामने आई है। दरअसल यहां 2 साल के मासूम बच्चे की झाड़ियों से लाश मिली है। मासूम के शरीर पर आंख, गले, पेट और गुप्तांगों के पास किसी हथियार से गोदने के निशान मिले हैं। आशंका जताई जा रही है कि बच्चे को चाकुओं या लोहे की गर्म रॉड से से गोदा गया है। हालांकि जिस हत्या के लिए जिस हथियार का इस्तेमाल किया उसका अभी पुलिस पता नहीं लगा पाई है।  बच्चे को चाकुओं से गोदा गया है अथवा लोहे की गर्म रॉड से।

क्या है मामला 
मिली जानकारी के अनुसार मृतक बच्चे की पहचान भावेश के रूप में हुई है। वो अपने मां-बाप का इकलौता बेटा था। पिता का कहना है कि वो बुधवार शाम करीब 4 बजे घर के बाहर खेलते समय अचानक गायब हो गया था। इसके बाद उन्होंने बच्चे की काफी खोजबीन की लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। इसके बाद पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने जब बच्चे की तलाश करनी शुरू की इसी बीच विक्टिम मनीष त्यागी के घर से कुछ ही दूरी  उसकी लाश झाड़ियों से मिली। बच्चे  के शरीर पर कई जगह गोदने से जैसे बड़े-बड़े निशान मिले हैं। बालक का सिविल हॉस्पिटल में पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।

इधर, सैंपऊ सीओ विजय कुमार सिंह ने बताया कि परिजनों ने किसी पर हत्या का शक नहीं जताया है। लेकिन बालक के शरीर पर दिख रही चोटों से यह मामला अपहरण के बाद हत्या का लग रहा है। घरवालों की शिकायत पर पुलिस ने अपहरण और हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

हत्याकर झाडिय़ों में फेंकने की आशंका
बताया जा रहा है कि भावेश का घर से कुछ ही दूरी पर झाड़ियों में जहां शव मिला है। वहां उसके परिजन कई बार पहले भी तलाश कर चुके थे। लेकिन, गुरुवार दोपहर बाद अचानक वहां शव कैसे आया। इसलिए आशंका है कि संभवतः किसी ने हत्या करने के बाद भावेश का शव झाड़ियों में फेंका है।

पिता बोला- न तो किसी से रंजिश है और न ही दुश्मनी
मृतक भावेश के पिता मनीष त्यागी ने बताया कि उनकी न तो किसी से रंजिश है और न ही किसी से ऐसी दुश्मनी कि उसका बदला कोई उसके मासूम बेटे से ले। उसका बेटा तो बुधवार शाम घर के बाहर खेल रहा था। फिर अचानक गायब हुआ और अगले दिन उसकी लाश ही मिली। पता नहीं अपराधियों के ऐसे मंसूबे थे, जो मासूम का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.