Navratri 2020: नवरात्रि पर देवी मां को प्रसन्न करने के लिए करें ये 9 काम, पूरी होगी मनोकामना

Facebook

शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri) 17 अक्तूबर से प्रारंभ हो रहे हैं. नवरात्रि में नौ दिनों तक मां नव दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा होती है. इस समय मां के भक्त माता रानी का आशीर्वाद पाने के लिए नौ दिनों तक फलाहारी उपवास करते हैं. धार्मिक मान्यता के अनुसार, नवरात्रि के दौरान भक्त मां नव दुर्गा (Maa Nav Durga) की विशेष कृपा होती है. ऐसे में आप माता रानी (Mata Rani) को प्रसन्न करने के लिए उन्हें उनका प्रिय भोग अर्पित कर सकते हैं. आइए जानते हैं इसके बारे में…

  1. नवरात्रि की प्रतिपदा को मां शैलपुत्री की पूजा में उन्हें गाय के दूध से बनी सामग्री अर्पित की जाएगी. साथ ही उन्हें गाय के दूध से बनी मिष्ठान का भोग भी लगाया जाएगा.
  2. नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्माचारिणी की पूजा होती है. मां ब्रह्माचारिणी को चीनी का भोग लगाया जाता है.
  3. नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा होती है. मां चंद्रघंटा को घी का भोग लगाया जाता है. इससे मां चंद्रघंटा प्रसन्न होती हैं.
  4. नवरात्रि के चौथे दिन मां कुष्मांडा की पूजा होती है. मां कुष्मांडा को मालपुआ बेहद पसंद है. इसलिए मां कुष्मांडा को मालपुए का भोग लगाया जाता है.
  5. नवरात्रि की पंचमी तिथि पर मां स्कंदमाता की पूजा होती है. मां स्कंदमाता को केला काफी प्रिय है. पांचवे दिन मां स्कंदमाता को प्रसन्न करने के लिए केले का भोग लगाया जाता है.
  6. नवरात्रि की षष्ठी तिथि को मां नव दुर्गा के स्वरुप मां कात्यायनी की पूजा होती है. मां स्कंदमाता को शहद बेहद प्रिय है. मां स्कंदमाता को प्रसन्न करने के लिए शहद का भोग लगाया जाता है.
  7. नवरात्रि की सप्तमी तिथि को भक्त मां कालरात्रि की पूजा-अर्चना करते हैं. मां कालरात्रि को गुड़ बहुत प्रिय है. मां कालरात्रि को गुड़ का भोग लगाया जाता है.
  8. नवरात्रि की अष्टमी तिथि मां महागौरी को समर्पित होता है. मां महागौरी को प्रसन्न करने के लिए उन्हें नारियल चढ़ाया जाता है.
  9. नवरात्रि की नवमी तिथि मां सिद्धिदात्री को समर्पित होता है. मां सिद्धिदात्री को धान से बनी लाई बेहद प्रिय है. मां सिद्धिदात्री को लाई का भोग लगाया जाता है. 

Comments are closed.