WHO ने की घोषणा, बताया कब तक आएगी कोरोना वैक्सीन

 

कोरोना ने दुनिया के कई देशों में अभी भी कहर बरपाया हुआ है। हालांकि जो देश इस महामारी से उबरने का दावा कर रहे हैं, उनमें भी इससे बचने के लिए सोशल डिस्‍टेंसिंग और मास्‍क का प्रयोग अनिवार्य किया गया है। इस समय पूरी दुनिया की नजर सिर्फ उस खबर पर है, जो कोरोना वैक्‍सीन की सफलता को लेकर आने वाली है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वैक्सीन के बारे में अच्छी खबर दी है। डब्ल्यूएचओ के अध्यक्ष टेड्रोस अदनोम गेब्रियास ने कहा कि एक सुरक्षित और प्रभावी टीका इस साल के अंत में तैयार हो सकता है। डब्ल्यूएचओ अध्यक्ष ने सभी विश्व नेताओं से टीकों के समान वितरण को सुनिश्चित करने का भी आह्वान किया।

Whatsapp पर शेयर करें

टेड्रोस ने डब्ल्यूएचओ के कार्यकारी बोर्ड की बैठक में बताया, “हमें इस साल के अंत तक वैक्सीन की जरूरत है और हमें उम्मीद है। हम एक-दूसरे की जरूरत है और हमें वायरस से लड़ने के लिए ऊर्जा के साथ लड़ने की जरूरत है। 9 प्रयोगात्मक टीके अभी डब्ल्यूएचओ के नेतृत्व वाले कोवेक्स ग्लोबल वैक्सीन फैसिलिटी में पाइपलाइन में हैं।”

डब्ल्यूएचओ कोवेक्स फैसिलिटी और गेवी वैक्सीन गठबंधन कोरोना वैक्सीन उम्मीदवार तक पहुंच प्रदान करते हैं। कोवेक्स के साथ समझौते पर हस्ताक्षर करने वाले देशों को नए वैक्सीन उम्मीदवारों के व्यापक पोर्टफोलियो तक पहुंचने में मदद मिलेगी। अब तक 168 देश कोवेक्स सुविधा में शामिल हो चुके हैं। हालांकि, चीन, अमेरिका और रूस इसमें नहीं हैं।

जीएवीआई वैक्सीन गठबंधन बोर्ड पहले ही 92 कम और मध्यम आयु वाले देशों के लिए वैक्सीन डिलीवरी, तकनीकी सहायता और ठंडे उपकरणों के लिए 15 करोड़ रुपये की मंजूरी दे चुका है।

यूरोप ड्रग रेगुलेटरी फाइजर इंक और बायोएंटेक ने हाल ही में अपने प्रयोगात्मक टीकों की समीक्षा शुरू की है। यह दवा एजेंसियों को यह जानने में मदद करेगा कि टीका अपने परीक्षणों में कैसा प्रदर्शन कर रहा है। फाइजर ने हाल ही में कहा था कि वह अक्टूबर की शुरुआत में अपने वैक्सीन के लिए नियामक की मंजूरी लेगा। कंपनियों को अमेरिकी फास्ट ट्रैक समीक्षा के लिए मंजूरी दे दी गई है।

Whatsapp पर शेयर करें

Comments are closed.